fbpx
खबरखेल जगत

टी-20 वर्ल्ड कप का फॉर्मेट बदलेगा,देखिये कैसा होगा 2024 का टी 20 क्रिकेट

दोस्तों क्रिकेट का अगला टी-20 वर्ल्ड कप नए फॉर्मेट के साथ खेला जाएगा। यानि की सब कुछ अलग जी हाँ दोस्तों ICC ने 2024 में होने वाले इस टूर्नामेंट के फॉर्मेट में बदलाव किया है। अहम बात यह है कि वेस्टइंडीज की मेजबानी में खेले जाने वाले टी-20 के सबसे बड़े टूर्नामेंट में 20 देशों की टीमें हिस्सा लेंगी। और इसके मैच अमेरिका और वेस्टइंडीज में खेले जाएंगे। चलिए जानते हैं कि नया फॉर्मेट कैसा होगा…

मौजूदा फॉर्मेट, क्या नियम हैं


कुछ दिन पहले ऑस्ट्रेलिया में खेला गया टी-20 वर्ल्ड कप लीग कम नॉकआउट फॉर्मेट में खेला गया था। इसमें सबसे पहले क्वालिफाइंग राउंड खेला गया था। दो ग्रुप के क्वालिफाइंग राउंड से चार टीमों ने सुपर-12 के लिए क्वालिफाई किया, जहां 8 टीमें पहले से मौजूद थीं। सुपर-12 में 6-6 टीमों के दो ग्रुप थे। दोनों ग्रुप से दो-दो टीमें सेमीफाइनल में पहुंची और इन मैचों की विजेता टीमों ने फाइनल मैच खेला।

कौन-कौन सी टीमें क्वालिफाई हुई


अब तक 12 टीमें क्वालिफाई कर चुकी हैं। इनमें बीते दिनों खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप की टॉप-8 टीमें सीधे क्वालिफाई कर गई हैं। वेस्टइंडीज और अमेरिका को बतौर मेजबान डायरेक्ट एंट्री मिली है। इसके अलावा दो अन्य टीमें रैंकिंग के आधार पर आई हैं। शेष 8 टीमें क्वालिफायर टूर्नामेंट के जरिए आएंगी।

शेष-8 स्पॉट का क्वालिफिकेशन कैसे होगा?


बचे हुए आठ कोटे के लिए क्वालिफिकेशन रीजनल प्ले से होगा। ICC ने कहा- ‘साउथ अफ्रीका ने कोटा हासिल करने की मजबूत दावेदारी पेश की है। जबकि जिम्बाब्वे दावेदारी में कमजोर रहा है। ऐसे में दोनों को रीजनल क्वालिफिकेशन के लिए भेजे गए हैं।’ साउथ अफ्रीका और जिम्बाब्वे सुपर-12 के नीचले पायदान पर रहे थे। ICC के अनुसार अफ्रीका, एशिया और यूरोप रीजन में 2 कोट और अमेरिका और ईस्ट एशिया पैसेफिक रीजन में एक-एक कोटा है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button