fbpx
खबरराष्ट्रीय

राजधानी दिल्ली की दिल दहलाने वाली घटना,कर देगी रोंगटे खड़े

राजधानी दिल्ली अब भारत की राजधानी न कहला कर क्राइम की राजधानी कहलाने के कगार पर पहुंच गई हैं, हर रोज होते भयानक क्राइम से दिल्ली धधक रही हैं, कभी बाप बेटी को गोली मार देता हैं तो कभी प्रेमी अपनी ही प्रेमिका के 35 टुकड़े कर देता हैं, लेकिन ये बात यही नहीं रूकती ये आगे जाकर और बढ़ती हैं, जीई हां दिल्ली के पालम इलाके में एक व्यक्ति ने अपने परिवार के चार लोगों की हत्या कर दी। घटना मंगलवार की रात साढ़े दस बजे की है। आरोपी का नाम केशव है और वह नशे का आदी है। परिवार ने उसे नशामुक्ति केंद्र भेजा था। वहां से लौटने के बाद भी उसकी लत नहीं छूटी। वह नशे के लिए परिवार से पैसे मांगता रहता था। मंगलवार को भी उसने नशे के लिए पैसे मांगे थे। जब घरवालों ने पैसे देने से मना कर दिया तो उसने परिवार के लोगों की हत्या करने का फैसला कर लिया। घर के चारों सदस्यों को घर के सभी सदस्यों को अलग-अलग कमरे में ले जाकर उनकी हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी भागने की फिराक में था, लेकिन उसके चचेरे भाई ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। मृतकों की पहचान पिता दिनेश, मां दर्शना, बहन उर्वशी और दादी दीवाना देवी के रूप में हुई है।

बहन की चीख सुनकर पहुंचा चचेरा भाई

आरोपी केशव को पकड़ने वाले उसके चचेरे भाई ने बताया कि केशव के मकान की ऊपरी मंजिल पर झगड़ा हो रहा था। कुछ देर बाद बहन के चीखने की आवाज सुनी थी। वह बचाने की गुहार लगा रही थी। जब वह कुछ लोगों के साथ पहुंचा, तो आरोपी के घर का दरवाजा बंद था। जब उसने दरवाजा खटखटाया तो आरोपी बोला कि ये हमारा फैमिली मैटर है। इस पर लोगों ने कुछ देर तक इंतजार किया, लेकिन अचानक आरोपी भागने लगा, तो लोगों ने उसे पकड़ लिया। जब लोग घर के अंदर गए तो देखा कि घर का फर्श खून से लथपथ था। आसपास चार लाशें पड़ी हुई थीं। ये लाशें आरोपी के माता-पिता, बहन और दादी की थीं।

एक महीने पहले छोड़ दी थी नौकरी


केशव की पक्की नौकरी नहीं थी। पुलिस ने कहा कि वह गुड़गांव की एक कंपनी में काम करता था। एक महीने पहले ही उसने नौकरी छोड़ दी थी। इसके बाद से ही परिवार वालों के साथ पैसे को लेकर झगड़ा करता था। मामले में पालम पुलिस थाने में IPC की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे की जांच की जा रही है।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button