ललितपुरः लापरवाह डाक्टर को प्रभारी डीएम ने फटकारे

189
0
SHARE

कोविड-19 के कार्यों में लापरवाही किसी भी दशा में क्षम्य नहीं: प्रभारी डीएम
ललितपुर। मुख्य विकास अधिकारी/प्र.जिलाधिकारी अनिल कुमार पाण्डेय की अध्यक्षता में कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम विगत 24 घंटे के कोविड परिणामों पर चर्चा हुई। कोविड अस्पतालों की समीक्षा के दौरान अवगत कराया गया कि एल-2 अस्पताल में नियमित रुप से दवाएं, भोजन एवं अन्य आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। इस पर प्र.जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि कोविड अस्पतालों में अधिक आयु के मरीजों पर विशेष निगरानी की जाये, उन्हें प्रतिदिन चिकित्सक स्वयं अटेंड करें, इसके साथ ही मरीजों को समय पर दवाएं एवं गुणवत्तायुक्त भोजन उपलब्ध कराया जाये तथा भोजन को आकस्मिक रुप से चेक भी करें। कांटेक्ट ट्रेसिंग की समीक्षा के दौरान बताया गया कि प्र.जिलाधिकारी ने कहा कि पॉजिटिव मरीजों के सापेक्ष कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की संख्या अपेक्षानुसार कम है, साथ ही फीडिंग में लापरवाही की जा रही है, इस पर उन्होंने डा.देशराज को फटकार लगाते हुए 02 दिवस के भीतर पोर्टल पर फीडिंग कराये जाने के निर्देश दिये। साफ सफाई एवं सैनिटाइजेशन की समीक्षा के दौरान अवगत कराया गया कि नगर क्षेत्र में नगर पालिका द्वारा कन्टेन्मेंट जोन नहीं बनाये जा रहे हैं, न तो बैरीकेटिंग की जा रही है और न ही सैनेटाइजेशन का कार्य किया जा रहा है, इसके साथ ही नगर पालिका द्वारा निगरानी समिति की बैठकें भी आयोजित नहीं करायी जा रही हैं। इस पर प्र0 जिलाधिकारी द्वारा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को कड़ी फटकार लगाई गई, साथ ही शासन की मंशानुरुप कार्य करने के निर्देश दिये गए। बैठक के दौरान पुसिल अधीक्षक द्वारा बताया गया कि जनपद में सार्वजनिक स्थलों एवं बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जा रहा है, साथ ही लोगों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है। बैठक में यूनिसेट की प्रतिनिधि अर्पिता ने बताया कि आने वाली कुछ तिथियों में विभिन्न त्यौहार मनाये जाने हैं, जिनमें कोविड-19 गाइडलाइन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराये जाने के निर्देश शासन द्वारा दिये गए हैं, जिसके सम्बंध में विगत दिवस को जनपद के विभिन्न धर्मगुरुओं के साथ बैठक आयोजित की गई थी। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन के आला अधिकारियों एवं यूनिसेफ के प्रतिनिधियों द्वारा धर्मगुरुओं को धार्मिक स्थलों में आने वाले श्रद्धालुओं को जागरुक करने हेतु प्रेरित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मंदिरों, मस्जिदों, गुरुद्वारों व चर्च में सम्बंधित धर्मगुरु श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने तथा मास्क पहनने के लिए प्रेरित करें, साथ ही यदि आवश्यक न हो तो घर पर ही रहकर अपने धार्मिक अनुष्ठान करने की अपील भी की जा रही है। बैठक में एसपी प्रमोद कुमार, एडीएम अनिल कुमार मिश्र, सीएमओ डा.डी.के.गर्ग, सीएमएस डा.अमित चतुर्वेदी, सीएमएस डा.हरेन्द्र सिंह चौहान, क्षय रोग अधिकारी डा.जे.एस.बक्शी, डीआईओएस रामशंकर, डा.मुकेश दुबे, यूनिसेफ से अर्पिता सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं चिकित्सा विभाग के अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।

केतन दुबे- ब्यूरो रिपोर्ट
📞9889199324

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here