Home Hindi हटा: आरईएस विभाग के स्लेव कलवर्ट निर्माण में हो रहा डस्ट का...

हटा: आरईएस विभाग के स्लेव कलवर्ट निर्माण में हो रहा डस्ट का उपयोग, ठेकेदार कर रहा गुणवत्ता से खिलवाड़

36
0
SHARE

हटा-क्षेत्र में चल रहे निर्माण कार्यो में गुणवत्ता को अनदेखा किया जा रहा है। इसी क्रम में आरईएस विभाग द्वारा भी घोघरा से कारिवरा ग्राम के बीच जंगली नालों पर स्लेव कलवर्ट का निर्माण किया जा रहा है।लाखो रुपए की लागत से बन रही इन स्लेव कलवर्ट में जमकर डस्ट का उपयोग किया जा रहा है।डस्ट मतलब पत्थर की पिसी महीन रेत को लेकर उपयंत्री भागीरथ तंतुवाय द्वारा रोक भी लगाई जा चुकी है मगर ठेकेदार द्वारा अधिकारियों के दिशा निर्देशों को दरकिनार कर दिया गया। बता दे कि घोघरा ओर कारिवरा के बीच दो जंगल नाले पड़ते थे जो वरसात में आवागमन को पूरी तरह से रोक देते थे इसी समस्या को लेकर विभाग द्वारा यहाँ पर स्लेव कलवर्ट का निर्माण किया जा रहा। लाखो की लागत से बनने वाले इन स्लेव कलवर्ट में जमकर धांधली की गई है । मौका स्थल पर बनी संरचना की मजबूती की जांच की जाए गुणवत्ता का सच सामने आ जायेगा। इस संबंध में उपयंत्री भागीरथ तंतुवाय ने बताया कि मौके पर पड़ी डस्ट को लेकर ठेकेदार को साफ मना कर दिया गया था कि उपयोग न करे। साथ ही अधिकारियों को मौका स्थल का निरीक्षण कराया था अगर डस्ट उपयोग की गई है निश्चित कार्यवाही करेंगे। वही इस संबंध में आरईएस एसडीओ बीएल साहू द्वारा जांच का आश्वाशन दिया गया।

उपयंत्री के बीमार होने पर ठेकेदार की मनमानी– उपयंत्री भागीरथ तंतुवाय निर्माण कार्यो की पारदर्शिता के लिए जाने जाते है। पंचायतों के प्रभार में रहने दौरान निर्माण कार्यो में स्टीमेट अनुसार सामग्री देखने को मिलती है। लेकिन आरईएस विभाग में उपयंत्री प्रभार रहते समय इनका स्वास्थ खराब हो गया जिस दौरान ठेकेदार द्वारा घटिया निर्माण सामग्री लगाई गई।

✍️रवि बिदोल्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here