Home Hindi मड़ावरा : खुली सरकारी दावों की पोल, फेल दिख रही योगी की...

मड़ावरा : खुली सरकारी दावों की पोल, फेल दिख रही योगी की गुड्डा मुक्त सड़क योजना

136
0
SHARE

मड़ावरा / ललितपुर : गढ्ढों औऱ कीचड़ में तब्दील धवा रखवारा मार्ग लोगों के लिए मुसीबत बना हुआ है। एक वर्ष पहले मरम्मत के नाम पर लीपापाती की गई लेकिन चंद दिनों में ही रास्ते की हालत खराब हो जाती है। इन दिनों बारिश के चलते सड़क पर दोपहिया वाहन से निकलना तक दूभर है।आपको बता दे कि बारिश के दिनों में धवा रखवारा मार्ग में ग्रामीणों को काफी दिक्कत उठानी पड़ रही है, आय दिन दोपहिया वाहनों से लोग कीचड़ में फिशल के गिर रहे है रास्ता ज्यादा खराब होने के कारण न तो धवा रखवारा समेत कई गाँवो के लोगो को कोई स्वास्थ सेवाएं मिल पा रही है।ग्रामीणों का आरोप है कि छै,सात किलोमीटर के खराब मार्ग पर आए दिन लोग गिरकर घायल हो जाते हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि बनाते समय मानक और गुणवत्ता का ध्यान नहीं दिया जाता है और सड़क की मरमत का कार्य औऱ चौड़ीकरण जल्द नही हुआ तो कई गाँवो का आवागमन ठप्प हो सकता है।सरकार ने कच्चे रास्तों को पक्का करने की बहुत सी घोषणाएं की हुई हैं, जिन पर विभागीय अधिकारी काम करने का दावा करते हैं। लेकिन, जो सड़कें पहले से ही पक्की हैं और गड्ढों में तब्दील हो रही है उनकी तरफ न तो सरकार के नुमाइंदों व जनप्रतिनिधियों का ध्यान जा रहा है और न ही विभाग के कार्यालयों में बैठे उच्च अधिकारियों का। ग्रामीणों का कहना है कि सैकड़ो बार सरकार के राज्य मंत्री मनोहर लाल पन्त जो कि इसी विधानसभा महरौनी से भारतीय जनता पार्टी से राज्य मंत्री है उनको कई बार प्रार्थना पत्र दिय है साथ उच्य अधिकारियों और समाधान दिवस के माद्यम से कई बार प्राथना पत्र दिए है लेकिन तकरीबन चार वर्ष से सड़क की हालत खराब है लेकिन अवि तक न तो सड़क मरमत का कोई कार्य अमल में लाया गया न कोई सुनवाई हो रही है।सड़कों की मरम्मत के लिए प्रति वर्ष लाखों रुपये का बजट विभागों में आता है। सड़कों की हालत को देखकर ऐसा लगता है यह बजट मात्र फाइलों में ही पूरा हो रहा है तथा सरकार का गड्ढा मुक्त सड़कों का अभियान भी दम तोड़ता हुआ नजर आ रहा है। पी डव्लू डी विभाग की लापरवाही के चलते धवा रखवारा रोड पर गड्ढों और कीचड़ में तब्दील हो गया है। गड्ढे होने के कारण वाहन चालकों और राहगीरों को जान का जोखिम बना रहता है।ग्रामीण समाज सेवक माखन राज पटेल का कहना है कि-सड़क पर गड्ढे व्याप्त होने के कारण दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। विभाग में सड़कों की मरम्मत के नाम से जो पैसा आता है उसकी भी जांच विभाग के मंत्री से शिकायत करेगे ।

✍️रामकुमार पटेल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here