Home Hindi मोहन्द्रा: बस स्टैंड में नाली ना होने के कारण सड़क में बह...

मोहन्द्रा: बस स्टैंड में नाली ना होने के कारण सड़क में बह रहा मल मूत्र

221
0
SHARE

आखिर किन कारणों से रोक रखी है नरेगा के सहायक यंत्री ने नाली निर्माण की फाइल

मोहंद्रा- कस्बे के बस स्टैंड में पानी की उचित निकासी के लिए नालियां नहीं है. परिणाम स्वरूप घरों के दैनिक निस्तार का पानी कई जगह सड़क के किनारे तो कई जगह सड़क में फैल कर बदबू और बीमारियां फैला रहा है. सबसे ज्यादा दुर्गति पवई रैपुरा रोड में है. यहां सड़क के दोनों किनारे राहगीरों को चलने तक के लिए जगह नहीं. मुख्य रोड होने के कारण यहां दिनभर वाहनों की आवाजाही होती है. कई बार वाहनों को ओवरटेक करने के लिए इसी मल मूत्र से होकर गुजरना पड़ता है. इसी रोड में स्टेट बैंक, सरकारी स्कूल, उचित मूल्य की दुकान व ग्राम पंचायत का कार्यालय है. इन कार्यालयों में किसी काम से आए ग्रामीण अपने वाहन गंदे होने के डर से सड़क किनारे खड़े कर देते हैं जिससे आवागमन भी अवरुद्ध होता है. सड़क के दोनों किनारे पसरी गंदगी से यहां दुकानदारी करने वालों का व्यवसाय भी प्रभावित होता है और स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव भी पड़ रहा है. कस्बे में डेंगू का मरीज मिलने के बाद लोगों में मौसमी व मच्छर जनित बीमारियों का डर भी साफ-साफ देखा जा रहा है. स्थानीय लोगों ने कई मतर्बा नाली निर्माण के लिए सक्षम जनप्रतिनिधियों सहित अधिकारियों का ध्यान इस तरफ आकृष्ट कराया पर जनता के हाथ सिवाय आश्वासन के कुछ नहीं आया. स्थानीय ग्राम पंचायत से प्राप्त जानकारी के मुताबिक स्वच्छ भारत कार्यक्रम के तहत बस स्टैंड में नाली निर्माण के लिए 50 लाख रुपए की अनुमानित लागत से ग्राम पंचायत द्वारा 5 वर्क कोड जारी कर दिए गए, पर नरेगा सहायक यंत्री द्वारा निर्माण कार्य के लिए टीएस जारी नहीं किया जा रहा. पवई विकासखंड की पंचायतों में अपने मनमाने स्वभाव के लिए पहचाने जाने वाले सहायक यंत्री कई बार जनपद के अधिकारियों की भी नहीं सुनते. बरहाल नरेगा सहायक यंत्री की हठधर्मिता से मोहंद्रा में नाली निर्माण कार्य में विलंब भी हो रहा है और जनता परेशान भी हो रही है.
जब इस संबंध में नरेगा सहायक यंत्री से फोन पर बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने इस बाबत जनपद पंचायत पवई के सीईओ से बात करने को कहा

✍️आकाश बहरे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here