Home Hindi बटियागढ़: जर्जर शासकीय विद्यालय भवन के मलबे की हुई नीलामी

बटियागढ़: जर्जर शासकीय विद्यालय भवन के मलबे की हुई नीलामी

253
0
SHARE

बटियागढ़ कुछ दिन पहले शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय बटियागढ़ का पुराना भवन जर्जर होने पर गिरा दिया गया भवन गिरने के बाद जो मलवे के रूप में लकड़ी, पत्थर,(फरसी)लंबे पत्थर, दरवाजे, खिड़की इत्यादि भवन से निकला उस मलवे को प्राचार्य और वरिष्ट अध्यापको, निगरानी समिति,।जनपद शिक्षा समिति के अध्यक्ष भगत पटेल और ग्राम के गणमान्य नागरिकों के समक्ष एवं बीईओ बीएस रावत की जानकारी मे गिरे हुए भवन के मटेरियल की गुरुवार 25 मार्च 2021 को दोपहर 12 बजे से शासकीय उत्कृष्ट विधालय बटियागढ़ मे नीलामी की प्रक्रिया आनन फानन में मीडिया में खवर चलने के बाद शुरू की गई। जानकारी के अनुसार उत्कृष्ट विद्यालय बटियागढ़ के प्राचार्य के द्वारा बताया गया कि गिरे हुए भवन के मटेरियल की नीलामी के लिए समिति द्वारा पत्थरों की न्यूनतम बोली ₹10000 रखी गई जो ₹11,000 पर जाकर खत्म हुई। पत्थरों को मां हरसिद्धि समिति के अध्यक्ष पं.आनंद त्रिवेदी ने नीलामी मे खरीदा। लंबी वाली लकड़ी(बल्ली) के लिए दूसरी न्यूनतम बोली समिति द्वारा ₹3000 रखी गई जो नीलामी मे ₹3500 पर जाकर खत्म हुई जिसे दिलीप सिंह(लंबरदार) ने खरीदा। समिति के द्वारा तीसरी न्यूनतम बोली ₹1000 दरवाजे एवं खिड़की के लिए रखी गई जिसे नीलामी मे बल्लू पांडे ने ₹1800 रुपए में खरीदा। चौथी न्यूनतम बोली (फरसी) लंबे वाले पत्थर के लिए रखी गई जो ₹20000 थी जिसे किसी ने नहीं खरीदा और वह समिति के पास ही रही। समिति के द्वारा बताया गया कि इन पत्थरों की नीलामी 3 दिन बाद दोबारा की जाएगी। इस प्रकार से शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में जर्जर हुए भवन के मटेरियल की नीलामी संपन्न हुई लेकिन पाँच कमरों को गिराने के बाद उसमें से निकली सागोन की कीमती लकड़ी गुप् चुप तरीके से उपयोग कर ली गई केवल खाना पूर्ति के लिए नीलामी की प्रक्रिया की गई पाँच कमरों एव एक बड़ी दालान की सामग्री नीलामी के समय न काफी थी

✍️राजेंद्र सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here