Home Hindi पाली : नगर में हुरियारों की टोलियों ने फोड़ी मटकी, पुलिस दिखी...

पाली : नगर में हुरियारों की टोलियों ने फोड़ी मटकी, पुलिस दिखी चौराहों पर चौकन्ना

344
0
SHARE

होली का त्योहार नगर भर में हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ मनाया गया। घर घर में पकवान व मिठाई की खुशबू आ रही थी। वहीं हर तरफ रंग व गुलाल की बौछारें होती नजर आ रही थी। दूसरी ओर बच्चों व युवाओं के साथ महिलाएं भी डीजे पर डांस करते हुए दिखाई दी।

इतना ही नहीं सभी लोग अपने गिले शिकवे भूलकर एक दूसरे से गले मिले और होली की शुभकामनाएं दीं। रविवार की शाम नगर के साथ ही शहर के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर होलिका दहन किया गया था। दहन के बाद नगर ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में चारो ओर रंगों की बौछार शुरू हो गई।

पाली नगर में मंगलवार को नगर के युवाओं द्वारा कपड़े फाड़ होली खेली गई। जिस ओर देखो लाल, हरा, पीला, नीला, गुलाबी, बैंगनी गुलाल उड़ता नजर आ रहा था। ऐसा लग रहा था मानों इंद्रधनुष जमीन पर उतर आया हो। नगर में लोगों द्वारा मटकी बांधी गई।जिसे हुरयारों की टोली ने मटकी फोड़ी। बच्चे हों या वृद्ध, महिला हों या पुरुष सभी बिना किसी भेदभाव के एक दूसरे के घर जा रहे थे और गुलाल लगाने के बाद गले मिलकर होली की शुभकामनाएं दे रहे थे। जैसे जैसे दिन चढ़ा वैसे वैसे रंग में सराबोर लोग दिखाई देने लगे। बच्चे भी पिचकारियों से गीले रंगों की बौछारें करने लगे।

मगर युवाओं का होली खेलने का अलग ही तरीका था। वह डीजे पर होली के विभिन्न गानों की धुन पर डांस करते हुए गुलाल उड़ा रहे थे। जगह जगह गीले रंग की बौछारों की वजह से सड़कें भी रंगीन हो गई। वहीं डीजे पर भीगे चुनर वाली रंग बरसे, आज न छोडेंगे बस हम जोली, होलिया में उड़े रे गुलाल, आज ब्रज में होली है रसिया, होली के दिन खिल जाते हैं रंगों में मिल जाते हैं…आदि गीतों की धुनों पर युवा व बच्चों थिरक रहे थे। इस दौरान पुराने लोक गीत का भी क्रेज काफी दिखाई दिया। रंगों का पर्व शांति पूर्वक संपन्न हो गया। इस दौरान लोगों ने जहां गले मिलकर एक दूसरे को गुलाल व रंग लगाया तो दूसरी ओर लोगों ने चौपाइयां गाकर माहौल को रंगीन कर दिया। बड़े ही नहीं बच्चे भी किसी से पीछे नहीं रहे। वह भी अपने साथियों हमजोलियों के साथ खूब रंग खेल रहे थे

✍️जगदीश राय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here