Home Hindi टहरौली: स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था के कारण धूल खाने को मजबूर...

टहरौली: स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था के कारण धूल खाने को मजबूर सरसेडा का उप स्वास्थ्य केंद्र

373
0
SHARE

झांसी की तहसील टहरौली अंतर्गत ग्राम सरसेडा में स्वास्थ्य विभाग की घोर लापरवाही देखने को मिली। उप स्वास्थ्य केंद्र में ना तो कोई डॉक्टर आता है और ना ही एएनएम। गांव वालों के बताने के अनुसार कई महीनों से स्वास्थ्य केंद्र का ताला भी नहीं खोला गया। जिससे उप स्वास्थ्य केंद्र धूल खाने को मजबूर हो गया। सबसे बड़ी बात तो यह है की इस महामारी के चलते केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार महामारी को भगाने के लिए काफी प्रयास कर रही है और कोरोना ग्रसित व्यक्तियों की इलाज की व्यवस्था भी कर रही है। जहां एक तरफ कोरोना महामारी में ऑक्सीजन सिलेंडर की मरीजों को बहुत ही ज्यादा आवश्यकता है तथा ऑक्सीजन ना मिलने के कारण काफी मरीज अपनी जान भी गवां रहे हैं, केंद्र सरकार तथा उत्तर प्रदेश सरकार ऑक्सीजन की व्यवस्था करने में लगी हुई है। एक ओर प्रदेश सरकार का कहना है की किसी भी हाल में हम कोरोना ग्रसित मरीजों को ऑक्सीजन की व्यवस्था करेंगे, तो वहीं स्वास्थ्य विभाग की घोर लापरवाही के कारण सरसेडा गांव में उप स्वास्थ्य केंद्र में एक ऑक्सीजन सिलेंडर धूल खा रहा है। आज के समय में एक सिलेंडर से कई लोगों की जान बचाई जा सकती है। जब हमारे प्रतिनिधि ने उप स्वास्थ्य केंद्र सरसेड़ा की एएनएम से बात की तो एएनएम ने बताया कि हमारे यहां कोई भी ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं है और यह भी बताया कि हमने दो दिन पहले ही उप स्वास्थ्य केंद्र की साफ सफाई करवाई थी। जबकि ग्राम बालों के बताए अनुसार उप स्वास्थ्य केंद्र का महीनों से ताला भी नहीं खोला गया। इससे यह प्रतीत होता है की कहीं ना कहीं स्वास्थ्य विभाग की घोर लापरवाही के कारण उप स्वास्थ्य केंद्र धूल खाने को मजबूर हो गया।

✍️प्रदीप शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here