Home Hindi शमशाबाद: हजरत ईमाम हुसैन की शहादत एवं कुर्बानी वाला पर्व मोहर्रम, सौहार्दपूर्ण...

शमशाबाद: हजरत ईमाम हुसैन की शहादत एवं कुर्बानी वाला पर्व मोहर्रम, सौहार्दपूर्ण माहौल में सम्पन्न हुआ

110
0
SHARE
✍️विक्की आर्य

पूर्व विधायक रुद्रप्रताप सिंह ने ताजिया बनाने बाले व क्षेत्र के 14 अखाड़ों के उस्ताजो का सम्मान साफा बांधकर शाल श्रीफल व नगद राशि देकर सम्मानित किया। पूर्व विधायक ने कहा कि यह सच्चाई पर विजय का त्यौहार है। हसन हुसैन की याद में मनाया जाने वाला मोहर्रम त्याग और बलिदान का पर्व है। अमन और एकता का नजारा पेश करते हुए हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जुलूस में शिरकत किया और आपसी प्रेमभाव और सौहार्द्र का संदेश दिया। वहीं अखाड़े की बन्द होती परंपरा को चालू रखने के लिये ग्यारह हजार रुपये की राशि देने की घोषणा की। मुस्लिम महापंचायत के डा. अजीज खान ने कहा कि शमशाबाद क्षेत्र हमेशा से हिन्दू मुस्लिम आपसी भाई चारे के प्रतीक रहा है। यहाँ दोनों समुदाय के लोग मिलकर त्यौहार मनाते है। तीन ताजिये बनाये गये जिनका रीतिरिवाज के अनुसार कर्बला में विर्सजन किया गया। सभी वर्ग के लोगो ने ताजिये पर रेवड़ी का प्रसाद चढ़ाया गया। रात को ढपला ढोल की धुन पर सवारियां निकाली गई।
इस अवसर पर पूर्व जनपद अध्यक्ष मूलचंद माहेश्वरी, एस डी एम प्रवीण प्रजापति,तहसीलदार हर्ष विक्रम सिंह, सी एम ओ रणवीर सिंह राजपूत,नजर अली खान, गुड्डू खान, हनीफ खान, उमर खान, शानू खान अकरम खान ,सोहेल खान उबेद अंसारी जमील खान, जुगल चौकसे, रिंकू भार्गव, कमल सिंह चौहान, मनोज धाकड़ विनोद विश्वकर्मा, जगमोहन साहू आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष राजेन्द्र जैन ने किया।

✍️विक्की आर्य

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here