ललितपुरः साब, हमारे बेटा के हत्यारे कबे पकरो

90
0
SHARE

न्याय की आस में पांच माह से चक्कर लगा रहा वृद्ध
ललितपुर। बीते पांच माह गोविन्द सागर बांध से एक नाबालिग का शव बरामद किया गया था। जिसके हाथ पैर व मुंह टेप से बंधे हुये पाये गये थे। इस मामले में न्याय पाने की दरकार लिये मृतक युवक के परिजन पांच माह से पुलिस महकमें के लगातार चक्कर काट रहे हैं। आज फिर पीड़ित पिता ने एसपी को पत्र भेजकर मामले में जल्द खुलासा किये जाने की मांग उठायी है। बताया गया है कि पुष्पेन्द्र हत्याकांड 05 महीने व्यतीत होने के बाद भी कोतवाली पुलिस के हाथ खाली है। कोतवाली क्षेत्र के गोविन्द सागर बांध में छात्र की हत्या 3 दिन से लापता नाबालिग का बांध में शव मिला था। मोटी टेप से बंधे थे हाथ-पैर, मुंह पर कपड़ा लिपटा था। पांच माह पहले रहस्यमय तरीके से लापता हुये नाबालिग पुष्पेंद्र का बांध में मिला था शव; रस्सी से बंधे थे हाथ-पैर, मुंह पर कपड़ा लिपटा था। कोतवाली पुलिस के हाथ अब तक खाली है। मृतक के पिता बार बार पुलिस अधीक्षक कार्यालय के चक्कर लगा रहे है। गौरतलब है कि पुष्पेंद्र पटेल 13 नवंबर की शाम 7 बजे से घर से निकला था। झांसी में रहकर पढ़ाई करता था मृतक, 9वीं कक्षा में था। 12 नवंबर को दिवाली को मनाने के लिए घर आया था। ललितपुर जिले में तीन दिनों से लापता एक किशोर का शव सुबह सागर बांध में मिला था हाथ-पैर मोटी टेप से बंधे थे, जबकि मुंह पर कपड़ा बंधा था। परिजनों ने हत्या के बाद शव बांध में फेंके जाने की संभावना जताई थी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम कराया था रिपोर्ट में हत्या कर शव पानी में फेकने की पुष्टि हुई थी। इस मामले का पांच माह बाद भी पटाक्षेप न होने से पीड़ित पिता काफी परेशान है।

केतन दुबे- ब्यूरो रिपोर्ट
📞9889199324

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here