Home Hindi ललितपुरः बीएसए से मिलके संगठन ने करी समस्या निस्तारण की मांग

ललितपुरः बीएसए से मिलके संगठन ने करी समस्या निस्तारण की मांग

207
0
SHARE

सौंपे ज्ञापन, बीएसए ने दओ कार्यवाही का आश्वासन
ललितपुर। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ का जनपदीय प्रतिनिधि मंडल संघ के जिलाध्यक्ष एवं मांडलिक संगठन मंत्री राजेश लिटौरिया के नेतृत्व में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी रामप्रवेश से मिला प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की। इस दौरान अवगत कराया कि शिक्षक स्व.छक्कीलाल भारती की धर्मपत्नी गिरिजा बाई की पारिवारिक पेंशन का निर्धारण ना होने की स्थिति में गिरिजा बाई द्वारा 8 अप्रैल 2021 से घंटाघर के समक्ष आमरण अनशन करने का निर्णय लिया है। संघ के पदाधिकारियों ने भी निर्णय लिया है कि उनके द्वारा किए जाने वाले आमरण अनशन में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ शिक्षक हित को ध्यान में रखते हुए आंदोलन में सहयोग करेगा। शिक्षकों के लंबित चयन वेतनमान के संबंध में चर्चा हुई कि कतिपय शिक्षक 31 मार्च 2021 को सेवानिवृत्त हो रहे हैं उनका भी चयन वेतनमान लंबित है शेष कार्यरत शिक्षकों के चयन वेतनमान की पत्रावली आपके कार्यालय में लंबित है जिनका शीघ्र चयन वेतनमान लगाया जाए। साथ ही अनुसूचित जाति एवं जनजाति के शिक्षकों का जो वेतनमान उनके साथ नियुक्त शिक्षकों के वेतनमान से कम प्राप्त हो रहा है। उनका भी चयन वेतनमान निर्धारित करते हुए सही वेतनमान निर्धारित किया जाए। नवनियुक्त शिक्षकों को कार्यालय कर्मियों द्वारा अनावश्यक रूप से परेशान किया जा रहा है अनेक शिक्षकों द्वारा काफी समय पूर्व अंकपत्र एवं प्रमाण पत्रों के सत्यापन हेतु निर्धारित शुल्क की डीडी कार्यालय को उपलब्ध करा दी गई थी परंतु महीनों व्यतीत हो जाने के उपरांत भी उनका सत्यापन कार्यालय को प्राप्त नहीं हो रहा है साथ ही समस्त शिक्षकों के प्रमाण पत्रों के सत्यापन हेतु प्रभावी कार्यवाही की जाए यदि विभाग द्वारा किसी स्तर पर शिथिलता बरती जा रही है तो इस सत्यापन का कार्य संगठन अपने हाथों में लेकर इलाहाबाद पहुंचकर संघ के जनपदीय प्रतिनिधियों से मिलकर सत्यापन कार्य को पूर्ण कराने का प्रयास करेगा जिसमे नवनियुक्त शिक्षकों का सहयोग अपेक्षित है जिन शिक्षकों के सत्यापन प्राप्त हो चुके हैं उनके वेतन निर्गत हेतु पत्र बनाने में भी शिक्षकों को परेशान किया जा रहा है ऐसे शिक्षक संघ को अपनी वस्तुस्थिति से अवगत कराएं जिससे उनके वेतन निर्गत की कार्यवाही कराई जा सके।शासन द्वारा मान्यता प्राप्त शिक्षक संघों के प्रार्थना पत्रों पर ही विचार कर कार्यवाही की जाए कतिपय लोग फर्जी तरीके से गुट बना कर विभाग में अराजकता पैदा कर रहे हैं उनके क्रियाकलापों पर रोक लगाई जाए। शिक्षकों पर अनावश्यक दबाव बनाकर सदस्यता के नाम पर अवैध धन उगाही का खेल चल रहा है जिस के संबंध में संघ द्वारा पूर्व में भी शिकायत की जा चुकी है जिसकी आख्या खंड शिक्षा अधिकारी बिरधा द्वारा अभी तक उपलब्ध नहीं कराई गई है वह आख्या अविलंब उपलब्ध करा कर विधिक कार्रवाई की जाए। अंतर्जनपदीय स्थानांतरण पर आए शिक्षकों को उनके विद्यालय आवंटन की प्रक्रिया यथाशीघ्र प्रारंभ की जाए। अंतर्जनपदीय स्थानांतरण पर गए शिक्षकों की एलपीसी जल्दी से जल्दी भेजी जाए एवं सेवा पंजिका जो मात्र झांसी जनपद के शिक्षकों की रह गई है उनको भी यथाशीघ्र भेजा जाए इसके अलावा भी अन्य शिक्षक समस्याओं पर चर्चा की गई जिस पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने सकारात्मक सोच अपनाते हुए अप्रैल माह में समस्त समस्याओं के निराकरण का आश्वासन दिया प्रतिनिधिमंडल में जिला मंत्री अरुण गोस्वामी, शिक्षक कर्मचारी वेतन भोगी समिति के पूर्व अध्यक्ष संतोष रजक, संयुक्त मंत्री आलोक गुप्ता आदि उपस्थित रहे। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ प्रदेश कार्यसमिति का डिप्टी रजिस्ट्रार लखनऊ में पुनरू रजिस्टर्ड होने पर संघ के पदाधिकारियों ने हर्ष व्यक्त किया एवं उन्होंने कहा कि इससे फर्जी संगठन को करारा झटका लगा है इस अवसर पर आलोक श्रीवास्तव,हेमंत तिवारी, देवेंद्र जैन, अर्चना तिवारी ,हरीराम खरे ,आलोक स्वामी, मनोज झा, अनूप सैनी, सरमन लाल, नरेश कुमार, पवन स्वरूप पटैरिया, राजेश जैन, अरविंद गुप्ता राकेश द्विवेदी विक्रम सिंह आदि पदाधिकारियों ने हर्ष व्यक्त किया।

केतन दुबे- ब्यूरो रिपोर्ट
📞9889199324

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here