Home Hindi ललितपुरः लाभार्थियों को हर हाल में मिले योजनाओं को लाभ-डीएम

ललितपुरः लाभार्थियों को हर हाल में मिले योजनाओं को लाभ-डीएम

155
0
SHARE

जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में डीएम ने अधिकारियों को दिये निर्देश
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की शासी निकाय की बैठक कलैक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गयी। बैठक में सर्वप्रथम सीएमओ ने पिछली बैठक में लिये गए निर्णयों की अनुपालन आख्या प्रस्तुत की गई। जननी सुरक्षा योजना की समीक्षा के दौरान बताया गया कि जननी सुरक्षा योजना के तहत 20 फरवरी 2021 तक कुल 21364 प्रसव किये गए थे, जिसके सापेक्ष 20 फरवरी 2021 तक कुल 19580 लाभार्थियों का भुगतान किया जा चुका है, जिससे लाभार्थियों का भुगतान का प्रतिशत 96.6 तथा आशाओं का भुगतान प्रतिशत 94.23 रहा। बताया गया कि जननी सुरक्षा योजना के तहत 21 जनवरी से 20 फरवरी 2021 तक 1928 लाभार्थियों के सापेक्ष 1810 लाभार्थियों को भुगतान कर दिया गया है तथा 118 लाभार्थी शेष हैं। इस प्रकार भुगतान की प्रगति 93.88 प्रतिशत है। इस पर जिलाधिकारी ने समस्त एम.ओ.आई.सी. को निर्देशित करते हुए कहा कि जे0एस0वाई0 के भुगतान में अपने दायित्वों की पूर्ति न करने वाले कर्मचारियों के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही कर आख्या प्रेषित करें। जननी सुरक्षा योजना एफ.आर.यू.के तहत जनदप में दो एफ.आर.यू. क्रियाशील हैं, जहां सामान्य प्रसव के अतिरिक्त सिजेरियन प्रसवों की सुविधा उपलब्ध है। साथ ही जनपद में 11 एल-2 इकाईयां एवं 93 मान्यता प्राप्त उपकेन्द्र हैं, जिनमें संस्थागत प्रसव की सुविधा उपलब्ध है। जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम के तहत जनपद की स्वास्थ्य इकाईयों पर 15658 प्रसव किये गए, साथ ही निरूशुल्क परिवहन व्यवस्था 102 व 108 गाडिय़ों से उपलब्ध करायी जाती है। निरूशुल्क भोजन व्यवस्था, निरूशुल्क उपचार, निरूशुल्क खून व पेशाब की जांचे, ब्लॉक स्तरीय चिकित्सा इकाईयों पर, अल्ट्रासाउंड सुविधा तथा निरूशुल्क ब्लड ट्रांसफ्यूजन की सुविधा जिला महिला चिकित्सालय में उपलब्ध करायी जा रही है। पोषण पुनर्वास केन्द्रों की समीक्षा के दौरान बताया गया कि जनपद के सभी ब्लॉक स्तरीय चिकित्सालयों में 06 शय्या एवं जिला चिकित्सालय पुरुष में 10 शय्या एन.आर.सी. स्थापित एवं क्रियाशील हैं। यह भी बताया गया कि जनपद में 102 की 16, 108 की 22 एम्बुलेंस संचालित हैं, जिनमें समस्त उपकरण क्रियाशील हैं। आई.डी.एस.पी. कार्यक्रम के तहत कोविड मामलों की भी समीक्षा की गई, जिसमें बताया गया कि कोविड-19 के सर्वेलेंस एवं रोकथाम का कार्य किया जा रहा है। बैठक में बताया गया कि एन.सी.डी. के तीनों कार्यक्रमों के संविदाकर्मियों का वित्तीय वर्ष 2020-21 माह फरवरी 2021 के मानदेय का भुगतान कर दिया गया है। इसके साथ ही बैठक में नेशनल प्रोग्राम फॉर हेल्थ केयर ऑफ द एल्डर्ली कार्यक्रम के तहत माह फरवरी 2021 तक 418 एवं अब तक कुल 1607 एल्डर्जी मरीजों को लाभान्वित किया गया है। बैठक में यह भी बताया गा कि एन.टी.सी.पी. कार्यक्रम के तहत जनपद के ग्रामीण एवं अन्य क्षेत्रों में तम्बाकू के दुष्प्रभावों से बचाव हेतु एफजीडी कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। जिला चिकित्सालय ललितपुर में माह फरवरी 2021 में तम्बाकू उत्पाद के सेवन की आदत से अब तक ग्रसित 1505 पुरुष एवं 869 महिला मरीजों को लाभान्वित किया गया है, जिनमें से 68 लोगों द्वारा तम्बाकू का त्याग करने का संकल्प लिया गया है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत अब तक कुल 85009 गोल्डन कार्ड एवं मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत कुल 11848 गोल्डन कार्ड बनाये गए हैं। क्वालिटी एश्योरेंस के तहत जनपद ललितपुर में चिकित्सालयों की गुणवत्ता सुधार हेतु माह मार्च 2021 तक किये गए कार्यों के क्रम में कायाकल्प कार्यक्रम के अंतर्गत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों मड़ावरा एवं बार में कायाकल्प का एक्सटर्नल असिस्मेंट राज्य स्तरीय टीम द्वारा कयिा जा चुका है। इसके साथ ही कायाकल्प अवार्ड योजनान्तर्गत जिला चिकित्सालय पुरुष एवं महिला चिकित्सालय का एक्सटर्नल असिस्मेंट राज्य स्तरीय टीम द्वारा किया गया है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत जनपद प्रदेश में द्वितीय स्थान पर है, जनपद में 27616 लक्ष्य के सापेक्ष 31373 लाभार्थी पोर्टल पर अपलोड कर दिये गए हैं, जो लक्ष्य का 113.6 प्रतिशत है। बैठक के अंत में जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि स्वास्थ्य विभाग की किसी भी इकाई पर यदि मरीजों एवं उनके परिजनों से किसी कर्मचारी द्वारा पैसो के लेनदेन की शिकायत पाई जाती है तो जांचोपरान्त सम्बंधित कर्मचारी के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। इसके साथ ही समस्त एम.ओ.आई.सी. प्रत्येक सी.एच.सी. पर अपने दायित्वों की पूर्ति गंभीरतापूर्वक करें।

केतन दुबे- ब्यूरो रिपोर्ट
📞9889199324

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here