Home Hindi ललितपुरः सत्याग्रह कर पेयजल संकट दूर करने की मांग

ललितपुरः सत्याग्रह कर पेयजल संकट दूर करने की मांग

175
0
SHARE

बुन्देलखण्ड विकास सेना ने उग्र आंदोलन को चेताया
ललितपुर। बुन्देलखण्ड विकास सेना प्रमुख हरीश कपूर टीटू ने ललितपुर शहर में गहराते पेयजल संकट लिए घर पर 2 घंटे का सत्याग्रह किया। उन्होंने जल संस्थान की अकर्मणता, लापरवाही और घोर संवेदनशून्यता की वजह से शहर में व्याप्त जलसंकट पर गहरी चिन्ता व्यक्त की गई। सेना प्रमुख हरीश कपूर टीटू ने कहा कि जिला ललितपुर सिटी ऑफ डेम होने के बाबजूद आज शहर में पीने के पानी के लिए हाहाकार मची हुई है। गोविन्दसागर बांध के माध्यम से शहर में पीने के पानी की सप्लाई की जाती है। गोविन्द सागर बांध में पानी की क्षमता पर्याप्त होने बाबजूद शहर में निर्बाध गति से सप्लाई नहीं हो पा रही है और जो कुछ भी थोड़ी बहुत पानी की सप्लाई होती है तो उससे नलों में गन्दा बदबूदार पानी आ रहा है। जिस कारण संक्रामक रोग फैलने का खतरा बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि शहर के हर घरों के नलों से पानी गायब है। सुबह होते ही पूरे शहर में पानी किए हाहाकार मच जाती है। नेहरू नगर से लेकर, गोविन्द नगर तक तथा गाँधीनगर से लेकर पटेल नगर तक शहर के चारों कोनों में पानी की आपूर्ति लडख़ड़ाई हुई है। खिरकापुरा, लेडय़िा, नेहरू नगर, चौबयाना, सरदारपुरा, छत्रसालपुरा, मउठाना, पुरानी बजरिया में तो कई हफ्तों से नल सूखे हुए हैं। जिलाधिकारी से उन्होंने माँग की है कि स्वच्छ पेयजल की निर्बाध रूप से आपूर्ति सुनिश्चित की जाये। उन्होंने जिलाधिकारी से यह भी माँग की कि जहाँ जहाँ जल संस्थान के पाईपलाईनों से सप्लाई नहीं हो पा रही है, वहाँ पर टेंकरों द्वारा पानी की सप्लाई की जानी चाहिए। इसके अलावा पूरे शहर में खराब पड़े हेण्ड पम्पों को अबिलम्ब ठीक कराकर उन्हें चालू किया जाये। अन्यथा की स्थिति में बुन्देलखण्ड विकास सेना उग्र आन्दोलन छेडऩे के लिए बाद्ध हो जायेगी।

केतन दुबे- ब्यूरो रिपोर्ट
📞9889199324

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here