Home Hindi ललितपुरः कोरोना संक्रमण बढ़ने से अधिवक्ताओं ने लओ जो फैसला

ललितपुरः कोरोना संक्रमण बढ़ने से अधिवक्ताओं ने लओ जो फैसला

424
0
SHARE

नौ अप्रैल अधिवक्ता नहीं करेंगे अन्य कार्य
जिला बार एसोशियेशन ने विशेष कार्य ही किये जाने का किया आह्वान
प्रस्ताव भेजकर तीन दिनों तक अधिवक्ताओं का टीकाकरण कराने की मांग
ललितपुर। वैश्विक महामारी कोविड-19 के जनपद में लगातार बढ़ते मामलों को संज्ञान लेते हुये जिला बार एसोशियेशन के अध्यक्ष ओमप्रकाश घोष व मंत्री शंकरलाल कुशवाहा ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित करते हुये अति आवश्यक कार्य को छोडकर सभी अधिवक्ता 06 से 09 अप्रैल 2021 तक अन्य कार्य नहीं करेंगे। जिससे न्यायालयों में भीड एकत्र न हो उसके लिये आवश्यक है कि न्यायालयों में कोरोना के नियमों का पालन करते हुये सिर्फ अति आवश्यक कार्य ही किया जावे। शेष कार्यों को स्थगित किया जावे एवं साक्ष्य हेतु पेश होने वाले साक्षियों को बिना कोविड -19 की जांच रिपोर्ट के न्यायालयों में पेश न किये जाये तथा न्यायालयों एवं न्यायालय परिसर एवं कचहरी परिसर को प्रत्येक दिन सैनेटाईजर की व्यवस्था करायी जावे तथा न्यायालय के मुख्य गेट पर पुलिस बल तैनात किया जावे जो किसी भी वादकारी/न्यायालय कर्मचारी एवं अधिवक्तागणों को जब तक अन्दर प्रवेश नहीं करने दे। जब तक वह मास्क लगाकर नहीं आता है। मुख्य चिकित्साधिकारी को भी प्रस्ताव की प्रति प्रेषित की जावे कि वह न्यायालय परिसर में 06 से 09 अप्रैल 2021 तक कोरोना वैक्सीन टीकाकरण का कैम्प स्थापित करें, जिससे अधिवक्तागण कोरोना वैक्सीन के टीके लगवा सकें। उन्होंने न्यायिक अधिकारियों से अधिवक्ताओं एवं पीठासीन अधिकारियों, कर्मचारियों की सुरक्षा को ध्यान रखते हुये अपेक्षित सहयोग करने का आह्वान किया है।

✍️अमित लखेरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here