Home Hindi ललितपुरः डाक्टर नौकरी करवे नई तो रजिस्टेªशन हुईए रद्द

ललितपुरः डाक्टर नौकरी करवे नई तो रजिस्टेªशन हुईए रद्द

211
0
SHARE

महामारी अधिनियम में मुकद्दमा भी होगा दर्ज, कोर कमेटी की बैठक में डीएम ने दिये निर्देश
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट पार्क में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम विगत 24 घंटे के कोविड परिणामों पर चर्चा हुई। बैठक में आरआरटी टीम की समीक्षा के दौरान बताया गया कि शहरी क्षेत्र में मिले 137 मरीजों में से 106 लोगों को होम आइसोलेशन में भेजा गया है जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन के मरीजों से फोन पर वार्ता कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेते रहे। सर्विलांस टीम की समीक्षा के दौरान बताया गया कि सर्विलांस के दौरान जांच भी की जा रही है साथ ही तत्काल दवाइयों की किट भी उपलब्ध कराई जा रही है। समीक्षा में मात्र 38 लोगों को दवा की किट उपलब्ध कराए जाने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि सभी मरीजों को तत्काल दवाओं की किट उपलब्ध कराई जाए। कोविड अस्पतालों की समीक्षा के दौरान एल-2 हॉस्पिटल से लगातार बिजली खराब होने की शिकायत आने पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि कोविड सेक्शन के लिए अलग से वायरिंग कराई जाए। इसके अलावा उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि सभी अनुपस्थित चिकित्सकों को ड्यूटी ज्वाइन करने के लिए समाचार पत्रों के माध्यम से सार्वजनिक सूचना प्रकाशित करायें तथा यह भी प्रकाशित कराएं की ड्यूटी ज्वाइन न करने की दशा में महामारी अधिनियम के साथ-साथ रजिस्ट्रेशन रद्द करने की संस्तुति कर दी जाएगी। बैठक के दौरान यह भी बताया कि तालबेहट में महरौनी में ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के लिए जिलाधिकारी की ओर से शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। इसके साथ ही सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर सेंट्रल ऑक्सीजन सप्लाई सिस्टम लगाया जाएगा। वैक्सीनेशन की समीक्षा में बताया गया कि आज 315 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। इस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि वैक्सीनेशन के 1 दिन पूर्व संबंधित स्थान पर मुनादी कराई जाए जिससे अधिक से अधिक लोग वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक हो सकें। धनात्मक मरीजों की समीक्षा के दौरान बताया गया कि आज 297 मरीजों में से 201 मरीजों को होम आइसोलेशन में भेजा गया है, एल-1 व एल-2 में 13 तथा अन्य जनपद में 10 मरीज भेजे गए हैं। इसके अलावा 73 लोगों से सम्पर्क नहीं हो सका है। फैसिलिटी एलोकेशन की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए गए कि फेसेलिटी एलोकेशन सभी मरीजों का किया जाना है, किसी भी दशा में कोई भी मरीज अन ट्रेस न रह जाये। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि कांटेक्ट ट्रेसिंग के दौरान यदि कोई मरीज पोसिटिव पाया जाता है तो तत्काल फेसेलिटी एलोकेशन करते हुए दवाएं उपलब्ध कराएं। सेनेटाइजेशन एवं कंटेन्मेंट जोन की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि सभी कण्टेन्मेंट जोन में सघन सफाई एवं फॉगिंग अभियान चलाया जाए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार पांडे, अपर जिलाधिकारी वि./रा. अनिल कुमार मिश्र, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.डी.के.गर्ग, अपर पुलिस अधीक्षक, डीसी मनरेगा रविंद्रवीर यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी अवधेश कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं चिकित्सा विभाग के अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।

केतन दुबे- ब्यूरो रिपोर्ट
📞9889199324

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here