Home Hindi ललितपुरः कोरोना संक्रमण को लेकर डीएम ने अधिकारियों के पेंच कसे

ललितपुरः कोरोना संक्रमण को लेकर डीएम ने अधिकारियों के पेंच कसे

253
0
SHARE

कॉलेजों का तत्काल अधिग्रहण करने के आदेश
कोर कमेटी की बैठक में डीएम ने अधिकारियों को दिये निर्देश
ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम विगत 24 घंटे के कोविड परिणामों पर चर्चा हुई। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि जनपद में प्रतिदिन तेजी से मरीज निकल रहे हैं, अब लापरवाही की कोई गुंजाइश नहीं है। एल-3 हॉस्पिटल में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, इसलिए जनपद स्तर पर ही मरीजों को रखने के प्रबंध शीघ्रातिशीघ्र किये जायें। जनपद में कॉलेजों का तत्काल अधिग्रहण करें जिनमें पानी, बिजली, सड़क व बेड्स रखने की पर्याप्त व्यवस्था हो तथा जो घनी आबादी में ना हो। कांटेक्ट ट्रेसिंग की समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में कांटेक्ट ट्रेसिंग की स्थिति बहुत खराब है जिस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए गए कि ग्रामीण क्षेत्र में आशा एवं एएनएम को क्रियाशील करें। कंटेनमेंट जोन एवं सैनिटाइजेशन की समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन की स्थिति खराब है, साथ ही सेनेटाइजेशन में भी लापरवाही की जा रही है, इस पर जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया गया कि प्रतिदिन निकलने वाले मरीजों के सापेक्ष शत प्रतिशत कंटेनमेंट जोन बनाये जाए, नियमित रूप से सैनिटाइजेशन करें, साथ ही मुनादी कराकर लोगों को जागरूक करें। अन्ट्रेसेबल मरीजों के बारे में बताया गया कि एक मरीज अब तक ट्रेस नहीं हुआ है, उसका मोबाइल बंद आ रहा है, इस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए गए कि पुलिस की सहायता से उक्त मरीज के तत्काल ट्रेस करें। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिए कि शहरी एवं ग्रामीण स्तर पर निगरानी समितियों को क्रियाशील किया जाए, साथ ही नगरीय क्षेत्र में अधिशासी अधिकारी नगर पालिका पार्षदों की बैठक आयोजित कराएं। बैठक में अपर जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि शासन द्वारा पंचायत स्तर पर क्वॉरेंटाइन सेंटरों की सूची चाही गई है। इस पर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया कि स्वास्थ्य विभाग में कोविड-19 से संबंधित एक ऐसी टीम बनाएं जो शासन द्वारा चाही गई सूचना को तत्काल उपलब्ध करा सके। एंबुलेंस व्यवस्था की समीक्षा के दौरान बताया गया कि एंबुलेंसों का रिस्पांस टाइम बड़ा है और उन में ऑक्सीजन की उपलब्धता भी नहीं है, जिस पर जिलाधिकारी ने ऑक्सीजन सप्लायर को कड़ी फटकार लगाते हुए तत्काल आती है उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिए कि जनपद में आवश्यक सेवा वाले विभागों यथा विद्युत, जल संस्थान, पुलिस, स्वास्थ, नगर पालिका आदि अपने टोल फ्री नम्बरों को प्रसारित कराएं ताकि किसी भी आवश्यकता की स्थिति में आम लोग आपसे सम्पर्क कर सहायता प्राप्त कर सकें। बैठक में सीडीओ अनिल कुमार पांडे, एडीएम वि./रा. अनिल कुमार मिश्रा, एडीएम न्यायिक रजनीश राय, एएसपी गिरजेश कुमार, सीएमओ डा.डी.के.गर्ग, सीएमएस डा.अमित चतुर्वेदी, क्षय रोग अधिकारी डा.जे.एस.बक्शी, डीपीआरओ अधिकारी अवधेश कुमार, डा.मुकेश दुबे सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं चिकित्सा विभाग के अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।

केतन दुबे- ब्यूरो रिपोर्ट
📞9889199324

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here