Home Hindi ललितपुर: मंदिरो में मनाया जायेगा जलबिहार महोत्सव

ललितपुर: मंदिरो में मनाया जायेगा जलबिहार महोत्सव

297
0
SHARE

*मंदिरो में मनाया जायेगा जलबिहार महोत्सव
*श्रीजगदीश मंदिर समिति द्वारा श्रीगंगा जलपात्र प्रत्येक मंदिर में पहुंचाया जाएगा
*संपूर्ण विश्व के कल्याण की कामना हेतु की जाएगी भगवान से प्रार्थना
*श्रीरामलीला हनुमान जयंती महोत्सव समिति की बैठक में लिया गया निर्णय
ललितपुर। श्री राम लीला हनुमान जयंती महोत्सव समिति की एक बैठक समिति के अध्यक्ष पंडित बृजेश चतुर्वेदी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसमें 29 अगस्त को मनाए जाने वाले जलविहार पर्व पर विस्तृत रूप से चर्चा की गई। समिति के अध्यक्ष ने कहा की जलविहार पर्व ललितपुर जनपद का सबसे प्रमुख पर्व है। इसमें नगर की सभी देवालयों के श्री विग्रह विमान में रखकर नगर के सुप्रसिद्ध श्रीरघुनाथ बड़ा मंदिर से होते हुए चौबयाना, रावरपुरा, महावीरपुरा, घंटाघर, सावरकर चौक, तालाबपुरा होते हुए नगर के प्राचीन सुमेरा तालाब पर बिहार हेतु पहुंचते हैं। जहां वैदिक मंत्र उच्चारण के साथ भगवान के श्रीविग्रह का विहार कराया जाता है। लेकिन इस वर्ष कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए यह महापर्व मंदिरों में ही मनाया जा रहा है। समिति के द्वारा मंदिरों के सभी प्रबंधक एवं सेवायत पुजारियों से आह्वान किया गया कि वह ठाकुरजी का विहार मंदिरों में बावड़ी या कुंए के पास ही विधि विधान से संपन्न करावे। साथ ही 5 व्यक्ति इस दौरान हो। इसके लिए समिति के द्वारा प्रत्येक मंदिर पर श्री गंगाजल एवं श्रीजगदीश मंदिर समिति द्वारा गंगाजल पात्र की व्यवस्था की गई है। समिति के पदाधिकारी सभी मंदिरों पर जाकर यह पात्र अर्पण करेंगे। जिससे गंगाजल से भगवान का अभिषेक संपन्न हो सके। सभी भक्तजन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए, अपनी सुविधा अनुसार इस पर्व को पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाएं एवं भगवान से यही प्रार्थना करें कि प्रभु जल्द से जल्द कोरोना वायरस महामारी संपूर्ण विश्व से समाप्त हो और संपूर्ण विश्व का कल्याण हो। इस मौके पर श्यामा कांत चौबे, जगदीश मंदिर समिति के अध्यक्ष सुधांशु शेखर हुण्डैत, चंद्रविनोद हुण्डैत, रमेश रावत, राजेश दुबे, हरविंदर सलूजा, रत्नेश तिवारी, जगदीश पाठक, अमित तिवारी, चंद्रशेखर राठौर, हरीमोहन चौरसिया, धर्मेंद्र चौबे, भरत रिछारिया, शिवकुमार शर्मा, ललित कौशिक, मुन्ना त्यागी, टिंकल हुण्डैत, मुरारी पुरोहित उपस्थित रहे। संचालन महामंत्री डॉक्टर प्रबल सक्सेना ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here